Panch Tulsi Drops Benefits – Panch Tulsi Ke Fayde – Tulsi Uses

दोस्तों मैं आज आपको Benefits of panch tulsi (Panch Tulsi Ke Fayde) :  Uses panch tulsi drops  एक ऐसी चमत्कारी औषधि है जिसके फायदे जानकर आप हैरान रह जायेंगे

PANCH TULSI DROPS BENEFITS – TULSHI DROPS – TULSI USES – Panch Tulsi Ke Fayde

Panch Tulsi Ke कुछ ऐसे चमत्कारी Fayde है जो आपको जीवन में कभी बीमार नहीं होने देंगे Panch Tulsi ke fayde की वजह से वेदो में Panch Tulsi को अमृत कहाँ गया है , तो आईये जानते है Panch Tulsi ke fayde जो इस प्रकार है –

BENEFITS OF PANCH TUSLHI, how to use tulsi drops, panch tulshi ke fayde, PANCH TULSI DROPS BENEFITS, USES OF TULSI
Panch Tulsi ke fayde

पहले आइये  जानते  है

 पंचतुलसी को अमृत क्यों माना गया है :-  इसके प्रयोग से वाणी 

( मुख, कंठ, दांत, मसूढ़े, सांस नली और फेफड़े ), 

मन ( ह्रदय, मस्तिष्क, स्नायुमंदल) 

और काया  (पांव के अंगूठे से सिर के बालो तक)

तुलसी निरोग पवित्र सात्विक और निर्मल कर देती है |

Benefits of panch tulsi & how to use panch tulsi drops

तुलसी के पत्तो-शाखाओ से एक रोगनाशक तेल वायुमंडल में उड़ता रहता है कि इसके आस-पास रहने से , छूने से , पौधा रोपने से ही सैकड़ो रोग  दूर हो जाते है|

इसकी सुगंध देशो दिशाओ को पवित्र करके कवच और ढाल की तरह प्राणियों की सुरक्षा प्रदान करती है

अगर आपको मेरे पोस्ट पसंद आ रहे तो आप में पोस्ट को शेयर कर सकते है और आप गूगल प्लस पर  फॉलो भी कर सकते है |

Panch Tusli Ras Ke Fayde (Panch Tulsi drops benefits):- पंचतुलसी रस में पांच तरह की तुलसी होती है – 1. राम तुलसी 2. शाम तुलसी 3. तुकक्षामिया तुलसी 4. बबी तुलसी 5. दूरदीहा तुलसी को मिलाकर पंचतुलसी का रास बनाया जाता है |

पंचतुलसी के रस का उपयोग २०० से ज्यादा बीमारी में किया जाता है | पंचतुलसी के बहुत से गुण है , तुलसी चरपरी, कड़विये अमनीदीपक, ह्रदय के लिए हितकारी , गरम, दाह , पित, कोढ़, रक्तविकार, पसली पीड़ा, कफ इत्यादि |

तुलसी शीत , स्मिग्ध, कफ व ज्वरनाशक है | दाद, खाज , खुजली , फेफड़ो को सोजिश, पेट के रोग, घबराहट, आलस्य , पेट में दर्द , मल-मूत्रक रुके रहना या साफ न आना , शरीर में अकड़ाहट, छाती में जलन |

You must read these article.

पेट में वायु का गोला सा घूमना, मल साफ न होना, पेट में अफारा और अंगो में अकड़ाहट होना |

जुकाम , दिमाग पर बोझ , घाव , घमोरी , मुहांसो, छालो पर , तलवे फटने, उबकाई आना ,खट्टी डकारों का आना , जी मिचलाना , शरीर में भारीपन, गले या छाती में जलन, थकावट आदि |

मल दुर्गंधिंत तथा बार -बार आना ,फ्लू , पेट में कीड़े , उल्टी “और” दस्तो के साथ बुखार व पेट आंतो में ऐठन , बेचैनी, हाथ पेरो का अकड़ना, खून( Haemoglobin) की कमी |

अगर मनुष्य पंच तुलसी का सेवन करता रहे तो वह सालो तक रोग मुक्त रह सकता है | जैसे किसी प्रकार से भी विष का शरीर में प्रवेश हानिकारक है ,

उसी प्रकार पंच तुलसी का किसी भी प्रकार से शरीर में प्रवेश करना लाभदायक है |जैसे किसी प्रकार से भी विष का शरीर में प्रवेश हानिकारक है ,

उसी प्रकार पंच तुलसी का किसी भी प्रकार से शरीर में प्रवेश करना लाभदायक है |

वैज्ञानिक Panch Tulsi ke fayde के बारे में क्या कहते है :- 

वैज्ञानिको ने भी माना है कि 

पंच तुलसी रस कीटाणुओं को नष्ट कर देता है 

और मलेरया जैसे बुखार को भी पंच तुलसी से 

समाप्त किया जा सकता है |

 विदेशी डॉक्टरों ने अपने अनुभव के 

आधार पर बताया है 

कि आंतो की सफाई का  

सर्वश्रेष्ठ उपाए  तुलसी को बताया है |

पंच तुलसी का इस्तेमाल कैसे करे (How to use panch tulsi drops):- इसका का उपयोग (Uses of Tulsi) पानी में , चाय में , दही में , सलाद में , 

किसी सब्जी में , सॉफ्ट ड्रिंक में मिलाकर किया जा सकता है ,  

शुरुआत में 2 से 3  बूंद सुबह और शाम ले  

“और” 

कुछ दिनों बाद आप 10 बूंद तक ले सकते है |

चेतावनी

क्योंकि तुलसी का तासीर यानि स्वभाव गर्म होता है

इसलिए गर्मी के मौसम में पंच तुलसी का उपयोग ( Tulsi Uses )

कम मात्रा में करना चाहिए

मेरा पोस्ट ( BENEFITS OF PANCH TULSI
या
HOW TO USE PANCH 
TULSI DROPS
पढ़ने के लिए धन्यवाद!

PANCH TULSI खरीदने के लिए BUY NOW पर क्लिक करे

Add a Comment

Your email address will not be published.